Sukhasana Benefits and How to Do in Hindi -Easy Pose

दोस्तों Sukhasana योगासनों में सबसे मुख्य आसनो में से एक के रूप में जाना जाता है. दोस्तो Sukhasana एक ऐसा आसन है जिसे करने के बाद ही दूसरे सारे योग और आसन किये जाते है. Sukhasana को Easy Pose के नाम से भी जाना जाता है. Sukhasana बैठने का एक प्रकार है पर हाँ easy pose का यह मतलब नहीं की यह Easy है क्योंकि यदि आप chairs पर बैठने के आदि है तो इसे करने में आपको दिक्कत हो सकती है.

दोस्तों इस आर्टिकल में मैं आपको Sukhasana Benefits, How to do sukhasana, Sukhasana करते समय ध्यान कहा होना चाहिए, सुखासन का क्या मतलब होता है, इसे कब करना चाहिए, कौनसी दिशा में बैठकर करना चाहिए, इन सभी के बारे में आपको इस आर्टिकल में जानकारी मिलेगी-

सुखासन का अर्थ है सुख देने वाला आसन या फिर आराम देने वाला आसन. सुख का अर्थ है प्रसंता। पेरो को क्रॉस करके बैठने यानि पालथी मारकर बैठने की वजह से इस आसन को सुखासन कहा जाता है. यानी की जिस आसन में बैठने से सुख की अनुभूति हो,सुखासन है.

यह आसन पुराने समय से ऋषि मुनियो के द्वारा प्रचारित किया गया और ध्यान करने यानी Meditation करने के लिए भी इस Sukhasana के मुनियो के द्वारा श्रेष्ठ बताया गया.

How To Do Sukhasana ? सुखासन कैसे करे (विधि) –

  1. सुखासन करने के लिए आप आराम से पेरो को मोड़ते हुए जमीन पर बैठ जाये.
  2. अपने हाथो को अपनी गोद में या फिर अपने घुटनो पर रखे.
  3. रीड की हड्डी को सीधा रखे और सिर को भी सीधा रखे.
  4. तो दोस्तों इस प्रकार Sukhasana को किया जाता है. तो ऐसे निचे बैठ कर पेरो को आपस में क्रॉस कर सुखासन किया जाता है.

Things you Must Buy for Yoga

Beautiful Yoga Pants collection- Buy here from Amazon

 

fit yoga girl

Buy Yoga Mats with Discount here-Amazon link

Buy Yoga Clothes here for Men and Women

सुखासन करते समय ध्यान कहा होना चाहिए ? -Sukhasana

  • दोस्तों Sukhasana को करते समय आपका मन एकदम शांत होना चाहिए एकाग्रचित होना चाहिए.
  • और आपको शरीर में पुरे चक्रो ओर और कपाल पर दोनों आँखों के बीच अपना ध्यान केंद्रित करना चाहिए.
  • आपको ऐसा महसूस करना चाहिए की आपको चक्रो से निकलने वाली ऊर्जा की अनुभूति हो रही है.

How To Breath While Doing Sukhasan –

आपको आसाम से श्वास लेनी और छोड़नी है और प्राणायाम के अनुसार श्वास के क्रम को रखना है.

किस समय करना चाहिए Best Time to Do Yoga

आपको सुबह या फिर आपकी सुविधानुसार यथासंभव कभी भी आप Sukhasana को कर सकते है.

किस दिशा में मुँह करके सुखासन करना बेस्ट है ?

पूर्व या उत्तर दिशा में मुख करके Sukhasana करना सबसे श्रेष्ठ माना गया है. क्योंकि इस दिशाओ आध्यात्मिक लाभ से भरपूर माना गया है.

Sukhasana Benefits in Hindi – सुखासन करने के फायदे

  1. ध्यान (Meditation ) के लिए यह सबसे बेस्ट है. और सुखासन में ध्यान करने से ध्यान आसानी से होता है.
  2. भोजन करते समय इस आसन को करना बहुत फायदेमंद है। खाना सही तरह से पचता है।
  3.  जो लोग ध्यान करते समय पद्मासन करने में समर्थ नहीं है वो लोग सुखासन में बैठकर ध्यान कर सकते है.
  4. पूजा पाठ में यह आसन अधिकार किया जाता है.
  5. इससे रीड ही हड्डी सीधी और मजबूत बनती है.
  6. शरीर का पोस्चर अच्छा बनता है.
  7. यह आसन शारीरिक इस्फुर्ति मन की शांति और शरीर को निरोगी बनाये रखने में फायदेमंद है.
  8.  इसे करने से मन शांत रहता है.


तो दोस्तों यह थी सुखासन के बारे में पूरी जानकारी।

दोस्तों हमारी वेबसाइट पर आने और इस ब्लॉग को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद-

Our Other posts You Must read-

Sarvangasana- How to Do and benefits in Hindi

Weigh gain-How to Increase weight in Hindi-Easy and fast

Chakrasana-How to do and Benefits in Hindi

Benefits of surya namaskar-In Hindi

admin

I am Nitin Jangid and I will post some of the great blogs on health and Product reviews. I have a very Good youtube channel and my channel is dedicated to product reviews and You will find detailed analysis of product reviews on my website with HD images of products.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *